पेंसिल शेडिंग के बारे में क्या आप ये बातें जानते हैं ?

पेंसिल शेडिंग क्या है ? और इसका इस्तेमाल चित्रकारी के लिए कैसे करना है इसे आज हम लोग सीखेगें।

पहले हम पेंसिल शेडिंग की परिभाषा समझते हैं। पेंसिल ड्राइंग के दौरान चित्र में प्रकाश के भिन्न-भिन्न शेड को दर्शाने के लिए पेंसिल शेडिंग का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए हम अलग-अलग वैल्यू की पेंसिल का इस्तेमाल कर सकते है। उदहारण के लिए 2B, 4B, 6B आदि।

कई साथियों के मन में एक सवाल और पैदा होता है कि शेडिंग तो हम समझते हैं लेकिन ब्लेंडिंग (Blending) क्या होता है ? तो हम आपको जानकारी दे दें, कि शेडिंग करने के बहुत तरीके होते हैं।

ब्लेंडिंग भी शेडिंग करने का एक तरीका है। जहाँ पर अलग-अलग वैल्यू अथवा ग्रेड की पेंसिल एक साथ मिक्स कर दिया जाता है।

पेंसिल शेडिंग

अगर आप मेरे द्व्रारा बनाई गई ड्राइंग पर गौर करेगें तो आप पायेगें कि मैं चारकोल को ग्रेफाइट से मिक्स करता हूँ। मेरे द्वारा लिखी जा रही बुक में मैनें इसे विस्तार से बताया है। ब्लेंडिंग के अलावा शेडिंग के अन्य तरीके है जैसे हैचिंग, क्रास हैचिंग आदि।

पेंसिल शेडिंग टूल्स –

शेडिंग टूल्स कई प्रकार के सकते है। दूसरे शब्दों में कहें तो हम भिन्न-भिन्न चीजों से शेडिंग कर सकते हैं।

ब्लेंडिंग स्टंप –

इसे कागज को बारीकी से गोलाई में लपेट कर बनाया जाता है।

rps20201222 185419

मशीन का इस्तेमाल करके इसको इतनी अच्छी तरीके से फोल्ड किया जाता है, कि यह पेन का आकार ले लेता है।

q? encoding=UTF8&ASIN=B08HWWQ88G&Format= SL250 &ID=AsinImage&MarketPlace=IN&ServiceVersion=20070822&WS=1&tag=babasart09 21ir?t=babasart09 21&l=li3&o=31&a=B08HWWQ88G

अमेज़न से खरीदें

ब्लेंडिंग स्टंप को अलग-अलग मोटाई में तैयार किया जाता है। हमारे ड्राइंग वीडियो देखने के दौरान कई मित्रों ने सफेद पेंसिल के बारे में पूँछा था। वास्तव में वह ब्लेंडिंग स्टम्प था।

ब्रश –

हम वाटर कलर के ब्रश को भी शेडिंग टूल्स की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर ब्रश के बालों की लम्बाई अधिक हो तो हमें कैंची की सहायता से, अपनी सुविधानुसार बालों को छोटा कर देना चाहिए। इसका कारण है कि अधिक लम्बे बाल शेडिंग के दौरान मुड़ जाते हैं।

पेंसिल शेडिंग टूल्स

चारकोल पाउडर इस्तेमाल के लिए ब्रश सबसे अच्छा माध्यम होता है।

रुई –

रुई के द्वारा भी हम आसानी से पेंसिल शेडिंग कर सकते है। इसके लिए कान का सफाई में इस्तेमाल हेतु इयर-बड का प्रयोग आप सेडिंग टूल्स की तरह कर सकते है।

पेंसिल शेडिंग टूल्स

छोटे से रुई के टुकड़े को पकड़ना और चित्र में सही जगह शेडिंग देना थोड़ा सा मुश्किल काम होता है। इसलिए हमें इयर-बड का प्रयोग करना चाहिए।

कागज के टुकड़े –

जब तक मैं स्कूल में था। ड्राइंग में शेडिंग के लिए मैं कागज का ही इस्तेमाल किया करता था।

पहले मैं कागज के टुकड़े से ड्राइंग में जहाँ शेडिंग करना होता था, वहाँ पर रगड़ देता था। अगर अनचाहे जगह पर शेडिंग हो जाती तो उसे मैं रबड़ से मिटा देता था।

ऊँगली का प्रयोग –

जब मैनें YouTube वीडियो बनाना शुरू किया तो मैं पेस्टल का प्रयोग करता था। आप वहाँ पर देख सकते हैं कि मैं शेडिंग के लिए अपनी ऊँगलियों का प्रयोग करता था।

कभी-कभी मैं पेंसिल शेडिंग के लिए भी ऊँगली का प्रयोग करता हूँ।

रबड़ का प्रयोग –

रबड़ से पेंसिल शेडिंग करने का अपना एक अलग तरीका है। इसके लिए आप चित्र में पेंसिल से सेड देगें। पेंसिल के द्वारा डार्क होने के बाद आप हल्के हाथों का प्रयोग करते हुए रबड़ से मिटा देगें।

यहाँ पर आपको बहुत सावधानी रखनी है। रबड़ को चित्र से हल्के – हल्के ही टच करें, अन्यथा आपका चित्र पूरी तरीके से मिट जायेगा। इस तरीके की सबसे अच्छी बात है कि, इसमें चित्र बहुत सुन्दर तरीके से निखर कर आता है।

पेंसिल शेडिंग किस प्रकार करना चाहिए ?

पेंसिल शेडिंग के लिए आपको पेंसिल को थोड़ी दूरी से और थोड़ा तिरछा पकड़ना चाहिए। अगर आइडियल बात करें तो आपके पेज और आपकी पेंसिल के बीच 30° का कोण होना चाहिए।

इस बात को आप ऐसे समझ सकते हैं कि, जब आप चित्र बनाते है या कुछ लिखते हैं तो आपके पेज और पेंसिल के बीच का कोण 45° से  60° तक होता है।

पेंसिल शेडिंग

यह व्यक्ति पर निर्भर करता है कि, वह किस कोण पर सहज महसूस करता है। लेकिन पेंसिल शेडिंग करते समय हमें पेंसिल को तिरछा ही रखना चाहिए।

पेंसिल शेडिंग की सबसे जरूरी बातें –

जैसा कि, मैं पहले ही बता चुका हूँ कि, अगर सम्भव हो आप अलग – अलग ग्रेड की पेंसिल का प्रयोग करें। अगर आप एक ही पेंसिल का प्रयोग कर रहे है, तो आपको प्रेशर पर ध्यान देना है।

अधिक सीखें – ड्राइंग स्किल को कैसे डेवलप करें सिर्फ़ 28 दिनों में

जहाँ पर आपको डार्क शेडिंग करना है वहाँ पर ज्यादा प्रेशर से शेडिंग करेगें और जहाँ पर लाइट सेड करना है। वहाँ पर हल्के प्रेशर से शेडिंग करना चाहिए।

पेंसिल शेडिंग करते समय आपको ध्यान रखना है कि चित्र में हर जगह शेडिंग नहीं करना है। आप जरूरत के हिसाब से पेंसिल शेडिंग करें नहीं तो चित्र की सुंदरता कम हो जाएगी।

Leave a Comment